बहुजनों की, बहुजनों के लिए, बहुजनों द्वारा संचालित भारत की एकमात्र पार्टी सम्यक पार्टी

द्वारा – तपेंद्र शाक्य, संस्थापक सह अध्यक्ष, सम्यक पार्टी

सम्यक पार्टी लोकतांत्रिक संगठन, सामूहिक निर्णय और नेतृत्व के प्रति आस्थावान और प्रतिबद्ध है। सम्यक पार्टी के आदर्श किसी व्यक्ति या जातिगत समूह को नहीं, बल्कि पार्टी, उसके संविधान, संगठन और विचार को आदर्श और मार्गदर्शक माना जाएगा।

भारत देश की बहुलतावादी संस्कृति, सोच और जीवन मूल्यों को पोषित और जीने वाले तथा समता और मानवता के राह दिखाने वाले और इन मूल्यों के लिए सबकुछ बलिदान कर देने वाले महापुरुष इस पार्टी के मार्गदर्शक हैं।  सम्यक पार्टी में सम्राट अशोक महान और अकबर महान के राष्ट्र एवं समाज निर्माण तथा सामाजिक- साम्प्रदायिक सद्भाव, समरसता और सौहार्द के विचारों का अनुगमन होगा।

सम्यक पार्टी का दर्शन जातिगत और व्यक्तिगत प्रभुत्व के विरुद्ध है। इसका दर्शन परिवारवाद और जातिवाद के विरुद्ध है। सम्यक पार्टी लोकतांत्रिक नैतिकता और शिष्टाचार में यकीन रखती है।

सम्यक पार्टी राजनीति में नैतिकता का उच्च मानक स्थापित करते हुए, राजनीति को व्यवसायिकता और कमाई का माध्यम होने से इसे बचाएगी।

वर्तमान में राजनीतिक मूल्यों के पतन को देखते हुए सम्यक पार्टी के रूप में एक ऐसे राजनितिक दल की स्थापना की गई है जिसमें जिसमें परिवारवाद, वंशवाद और जातिवाद की शून्य सम्भावना है।

सम्यक पार्टी अपने स्थापना से ही, अपने नीति, व्यवहार, नियम और संविधान से लोकतान्त्रिक है. यह लोकतंत्र क़ानूनी नहीं बल्कि व्यवहार में भी है.

लोकतान्त्रिक मूल्य और दर्शन, को व्यावहारिक रूप से सम्यक पार्टी और कार्यकर्ताओ के द्वारा जमीन पर उतराने के लिए पार्टी के संविधान में यह सुनिश्चित किया गया है कि पार्टी का प्रत्येक सदस्य पार्टी के सभी पदों सहित सर्वोच्च पद पर अपना योगदान दे सके.

सम्यक पार्टी के अंदर लोकतान्त्रिक मूल्य और दर्शन को बनाए रखने और सुनिश्चित करने के लिए पार्टी के संविधान में निम्नलिखित प्रावधान किये गएँ हैं –

(1) कोई भी व्यक्ति किसी एक पद पर अपने पूरे जीवनकाल में दो कार्यकाल से अधिक नहीं रहेगा। एक कार्यकाल मात्र तीन साल का होगा। इस प्रकार कोई भी व्यक्ति सम्यक पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित किसी भी पद पर छः साल से अधिक एक पद पर नहीं रह सकता है.

(2) किसी व्यक्ति का कार्यकाल समाप्त होने या इस्तीफे देने या हटाए जाने पर अगले एक कार्यकाल तक उस व्यक्ति के परिवार का कोई भी सदस्य अगले एक कार्यकाल के लिए अर्ह नही होगा।

(3) किसी भी कार्यकारिणी में एक परिवार का एक ही सदस्य पदाधिकारी होगा।

(4) एक परिवार में स्थानीय निकाय से लेकर संसद सदस्य हेतु दो व्यक्ति से अधिक का नामांकन नहीं होगा।

(5) तीन बार से अधिक एक पद पर चयन के बाद किसी व्यक्ति का नामांकन नहीं होगा।

(6) पार्टी के सत्ता में आनेपर एक ही जाति का व्यक्ति सरकार के मुखिया के रूप में दोहराया नहीं जाएगा।

(7) महिलाओं सहित सभी समाज को टिकट जनसंख्या के अनुपात में वितरित होगा।

(8) राजनीतिक रूप से वंचित समाज को टिकट वितरण में विशेष प्राथमिकता दी जाएगी।

(9) महिला सहित आरक्षित समाज के लिए आबादी के अनुपात में आरक्षण को लागू करना और आबादी के अनुपात में सभी को आरक्षण सुनिश्चित करना, सम्यक पार्टी के उद्देश्य, नीति और कार्यक्रम में शामिल है।

(10) समान गुणवत्तापूर्ण शिक्षा,और समान गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं सभी के लिए सुनिश्चित किया जाएगा।

(11) कदाचार मुक्त पारदर्शी परीक्षा द्वारा सरकारी नौकरीयों में भर्ती होगी।

(12) व्यापक तकनीकी शिक्षा, और इसके लिए समुचित वित्त पोषण सुनिश्चित कर युवाओं को व्यवसाय और रोजगार से जोड़ा जाएगा।

(13) किसानों के लिए समेकित समावेशी नीति बनाई जाएगी। फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारण करते समय उसके सभी लागतो को ध्यान में रखा जाएगा, जिसमें जमीन का किराया भी जोड़ा जाएगा।

इस प्रकार सम्यक पार्टी अपने नीति, दर्शन और कार्यक्रम से व्यक्तिवाद, परिवारवाद और जातिवाद का खात्मा, सुनिश्चित कर, समाज का समेकित सम्यक विकास करेगी।

सम्यक पार्टी, सम्यक नीति, नियम, सम्यक दर्शन और सम्यक राजनीतिक संविधान पर आधारित पार्टी है।

सम्यक पार्टी व्यक्ति आधारित पार्टी नही है। इसमें संविधान, नीति नियम और पार्टी प्रमुख है।