डॉ. भीमराव अंबेडकर राजकीय कल्याण छात्रावास संख्या – 2 में आज कार्यक्रम आयोजित कर शहीद जगदेव प्रसाद को श्रद्धांजलि दी गई. शहीद जगदेव प्रसाद को श्रद्धांजलि देने के साथ-साथ आर्थिक आधार 10 प्रतिशत “सवर्ण आरक्षण” और विश्वविद्यालयों में शिक्षक नियुक्ति में विभागवार 13 पॉइंट रिजर्वेशन रोस्टर के खिलाफ चर्चा हुई.

इस मौके पर डॉ. विलक्षण रविदास ने कहा कि शहीद जगदेव प्रसाद ने 90% शोषितों के धन-धरती व राजपाट में 90% हिस्सेदारी की लड़ाई लड़ते हुए अपनी शहादत दी थी. उन्होंने जोर दिया कि बहुजनों को एकताबद्ध होकर शहीद जगदेव प्रसाद के संघर्ष की विरासत को बुलंद करते हुए मनुवादी हमले का मुकाबला करना है .

विरोध प्रदर्शन का निर्णय

बैठक में आर्थिक आधार पर 10 प्रतिशत “सवर्ण आरक्षण” और कॉलेज और यूनिवर्सिटी में 13 प्वाइंट रिजर्वेशन रोस्टर  के खिलाफ आंदोलन चलाने का फैसला लिया गया.

बैठक में तय हुआ कि 7 फरवरी 2019 को तिलका मांझी विश्वविद्यालय परिसर से प्रतिरोध जुलूस निकालकर कमिश्नर ऑफिस तक पहुंचा जाएगा. कमिश्नर कार्यालय को ज्ञापन भी सौंपा जाएगा.

बैठक में छात्रों-बुद्धिजीवियों के साथ सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी हिस्सा लिया.

बैठक में सामाजिक न्याय आंदोलन, बिहार के रिंकु यादव, रामानंद पासवान, अंजनी, बिहार फुले-अंबेडकर युवा मंच के अंश देव निराला, अजय राम, वीरेंद्र गौतम, अखिलेश रविदास, दीपक कुमार, छात्र नेता मिथलेश विश्वास, सौरभ राणा, सौरभ तिवारी, अमित यादव, विभूति, सोनम, रवि कुशवाहा, अभिषेक आनंद, भरत, नंदकिशोर, सरोज, युवराज, बुद्धिजीवी विष्णुदेव दास, मेदी प्रसाद, राहुल राजीव सहित दर्जनों लोग शामिल थे.