सामाजिक न्याय आंदोलन, बिहार के कोर कमिटी सदस्य रिंकु यादव, रामानंद पासवान, सौरव राणा, मिथिलेश और बिहार फुले-अंबेडकर युवा मंच के अजय कुमार राम ने विश्वविद्यालयों में शिक्षक नियुक्ति में विभागवार 13 प्वाइंट रोस्टर के खिलाफ केन्द्र सरकार द्वारा 200 प्वाइंट रोस्टर के पक्ष में अध्यादेश लाने के फैसले को बहुजन आंदोलन की जीत बताते हुए प्रसन्नता व्यक्त की है.

जारी प्रेस बयान में नेताओं ने कहा कि सवर्ण आरक्षण रद्द करने, 13 प्वाइंट रोस्टर को रद्द कर 200 प्वाइंट रोस्टर के पक्ष में अध्यादेश लाने और जंगल से आदिवासियों की बेदखली के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ अध्यादेश लाने के तीन प्रमुख मुद्दों पर 5 मार्च, 2019 को बहुजन समाज ने भारत बंद किया था. केन्द्र सरकार को झुकना पड़ा है और बहुजन आंदोलन को आंशिक जीत मिली है. 13 प्वाइंट रोस्टर के खिलाफ 200 प्वाइंट रोस्टर के पक्ष में केन्द्र सरकार के कैबिनेट को अध्यादेश लाना पड़ा है. आगे भी हमें लड़ाई जारी रखनी है.बहुजनों की एकजुटता और सामाजिक-राजनीतिक दावेदारी को आगे बढ़ाना होगा.

जारी बयान में नेताओं ने भारत बंद को सफल बनाने के लिए भागलपुर में सड़क पर उतरे बहुजन समाज के आंदोलनकारियों पर दर्ज मुकदमे की तीखी निंदा की है. नेताओं ने कहा कि मुकदमा लादकर बहुजन आंदोलन को दबाया-रोका नहीं जा सकता है.मनुवाद के खिलाफ सामाजिक न्याय आंदोलन जारी रहेगा.

नेताओं ने कहा कि नीतीश सरकार आंदोलनकारियों पर दर्ज मुकदमे की अविलंब वापसी की गारंटी करे.अन्यथा आंदोलन तेज किया जाएगा.

5 मार्च, 2019 का भारत बंद दौरान भारत बंद समर्थको पर फर्जी आरोप और गिरफ़्तारी, स्क्रीन शूट सोनम कुमार

नेताओं ने कहा कि एससी/ एसटी एक्ट व दलितों-आदिवासियों व पिछड़ों के आरक्षण के खिलाफ आर्थिक आधार पर सवर्णों को आरक्षण देने के असंवैधानिक मांग के लिए सड़कों पर होने वाले सवर्णों के उत्पात को नीतीश सरकार की पुलिस ने कभी निशाना नहीं बनाया.सवर्ण उत्पातियों को सरकार की पुलिस ने सड़क पर  हमेशा छूट व संरक्षण देने का काम किया है.लेकिन बहुजन समाज जब भी संवैधानिक अधिकारों के लिए सड़क पर उतरता है.नीतीश कुमार की पुलिस मुकदमा-दमन करने व जेल भेजने के काम में लग जाती है.पिछले 2 अप्रैल, 2018 के भारत बंद में शामिल बहुजनों पर पूरे बिहार में मुकदमा लादने का काम किया गया.भागलपुर में भी दर्जन से ज्यादा मुकदमे सैकड़ों बहुजनों पर लादा गया था.सामाजिक न्याय आंदोलन,बिहार के गौतम कुमार प्रीतम को जेल में डाल दिया गया था.

नेताओं ने कहा कि नीतीश सरकार का घोर बहुजन विरोधी चरित्र बेनकाब हो चुका है. बहुजन समाज भाजपा-जदयू को सबक सिखाएगा और सड़कों पर मुकाबला जारी रखेगा.दमन से बहुजन आंदोलन रुकेगा,नहीं!

भागलपुर में 5मार्च के भारत बंद में रिंकु यादव,रामानंद पासवान,सौरव राणा,मिथिलेश,अजय कुमार राम सहित 40 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है.