आगामी लोकसभा चुनाव 2019 हम सभी लोगों के लिए महत्वपूर्ण चुनाव है. एक ओर जहाँ ST, SC, OBC, महिला, अल्पसंख्यक तथा आम गरीब मेहनतकश जनता के विरोधी तथा लोकतंत्र का गला घोंटने वाली भाजपा नेतृत्व वाली NDA गठबंधन है, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली और राँची के एयर कंडीशन में बैठ कर मोदी तथा भाजपा को हराने के नाम पर बनी महागठबंधन है.

हमलोगों का मानना है कि पिछले पाँच सालों में झारखंडी जनता के सवालों पर RSS और भाजपा जैसी फासीवादी ताकतों का मुकाबला जनआंदोलनों तथा सामाजिक संगठनों ने सड़कों पर उतर कर किया है.

सड़कों से लेकर खेत खलिहानों तक तथा कल कारखानों से लेकर विश्वविद्यालयों तक के आंदोलन में ये विपक्षी पार्टियाँ एक सिरे से गायब रही है.

चाहे वह CNT/SPT एक्ट में हुए संशोधन के खिलाफ आंदोलन हो, चाहे वह SC/ST (प्रिवेंशन ऑफ एट्रोसिटी) एक्ट में हुए संशोधन के खिलाफ संघर्ष हो, चाहे लाखों आदिवासियों को उनके जंगलों से बेदखली वाले आदेश के खिलाफ आंदोलन हो, या फिर झारखंड में गौरक्षक के नाम पर मुसलमानों आदिवासियों का मॉब लिंचिंग कर हत्या के खिलाफ सड़कों पर उतर कर RSS के गुंडों के खिलाफ लड़ाई हो, चाहे झारखंड राज्य और देश भर में ST, SC, OBC के आरक्षण के ऊपर हो रहे हमले के खिलाफ आंदोलन हो या फिर महिला उत्पीड़न तथा बलात्कर के खिलाफ मोर्चाबंदी हो, चाहे किसानों का सवाल पर आंदोलन हो या फिर पारा शिक्षक, आँगनबाड़ी सेविका-सहिया तथा तमाम अनुबन्धकर्मियों के सरकारीकरण कराने के लिए आंदोलन हो इन हरेक जन मुद्दों पर जनआंदोलनों तथा सामाजिक संगठनों ने सड़कों पर उतर कर भाजपा नेतृत्व वाली फासीवादी तानाशाही सरकार के खिलाफ ईमानदारी से संघर्ष किया है.

वहीं दूसरी तरफ ये विपक्षी पार्टियाँ इन तमाम सवालों पर सड़कों पर कभी दिखाई नहीं दिया.

लेकिन आज चुनाव के माहौल में बिना जनआंदोलनों को साथ में लिए जनता के सवालों को दरकिनार करते हुए भाजपा तथा मोदी को हराने के नाम पर एक तरह का फर्जी महागठबंधन बना कर जनता के भावनाओं तथा जनता के बुनियादी सवालों के साथ खिलवाड़ कर रही है.

ऐसे संकट के समय में जहाँ हमारा संविधान खतरे में है ये लोकतंत्र खतरे में है आदिवासी, दलित, पिछड़े, महिलाओं, अल्पसंख्यकों, किसान, मजदूरों के अधिकार खतरे में है झारखंड जनतांत्रिक महासभा ने फासीवादी ताकत RSS को तथा आदिवासी, दलित, पिछड़ा, महिला, अल्पसंख्यक, किसान, मजदूर विरोधी पार्टी भाजपा तथा नरेंद्र मोदी-रघुवर दास को चुनाव में शिकस्त देने मुँहतोड़ जवाब देने के लिए तथा जनता के बुनियादी सवालों को मजबूती से सड़क से लेकर सदन तक लड़ने के लिए झारखंड के 4 लोकसभा सीट (गोड्डा, राजमहल, राँची तथा जमशेदपुर) में लोकसभा चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है.

बहुत जल्द ही इन चारों लोकसभा के लिए बहुत जल्द प्रत्याशी के नाम की घोषणा की जाएगी.

तथा झारखंड में बाकी के 10 सीट में जनता के सवालों पर संघर्ष करने वाली पार्टी तथा उम्मीदवार को समर्थन करने की घोषणा सीटवार प्रत्याशी के नाम के साथ किया जाएगा.

आप तमाम साथियों से चुनाव संबंधी किसी भी तरह का सुझाव प्रतिकिया अपेक्षित है आमंत्रित है स्वागत है.

आप सभी को हूल जोहार
उलगुलान जिंदाबाद
सम्पर्क:-
बीरेन्द्र कुमार – 7544099299
दीपक रंजीत – 9431150509
झारखंड जनतांत्रिक महासभा
प्रेस विज्ञप्ति (23/03/2019)